How to Control your Mind in Hindi | मन पर नियंत्रण करके खुद के मालिक बने

How to Control your Mind in Hindi | मन पर नियंत्रण करके खुद के मालिक बने


How to Control Your Mind in Hindi : माइंड कण्ट्रोल इन हिंदी ~ इस चीज पर दुनिया ने काफी रीसर्च की है और इनमे पाया गया है की आप अपने Mind को Control (नियंत्रण) कर सकते है। आप अपने Mind के मालिक बन सकते है। आप अभी अपने आप से यह सवाल करे "आप अपने Mind के गुलाम है की Mind आपका गुलाम है" ?



मुझे पता है, की आप अपने Mind के गुलाम, मन के गुलाम है। इस लिए यह पोस्ट आप अभी पढ़ रहे है तो फिर आप सही जगह पर आये है, इस पोस्ट Mind Control को पढ़ने के बाद आप अपने मन को अपना गुलाम बना सके में यह आशा रखता हु।
Mind Control in Hindi
How to Control your Mind in Hindi


What Is Your Mind & इसके प्रकार कितने है


काफी लोगो को यह पता ही नहीं होता है की Brain (दिमाग) और Mind (मन) दो अलग चीज है। यह लोग Mind को ही Brain समझते है तो में आपको बता दू की हम यहा पर मन (Mind) की बात करने वाले है।

Brain का हमारे शरीर का एक हिस्सा है लेकिन मन (Mind) का हमारे शरीर में कोई हिस्सा नहीं है, ये अद्रश्य है। यह मन ही है, जो हमसे अच्छे और बुरे कार्य करवाता है।

अगर आपने अपने मन पर Control कर लिया तो आप कोई भी Goal अचीव कर सकते है। आप कुछ भी कर सकते है, कुछ भी पा सकते है।


Mind (मन) के प्रकार

➤ Conscious Mind (जागृत मन) चेतन मन
➤ Subconscious Mind (अर्ध जागृत मन) अवचेतन मन

Conscious Mind : यह हमारी जागृत अवस्ता में हि कार्य करता है Active रहता है।  ex - चाय पीना, टीवी देखना या फिर यह पोस्ट पढ़ना यह सब आप खुद करते है ये आपके नियत्रण में होती है। ये सब कार्य Conscious Mind (चेतन मन) करता है।

Mind Control in Hindi
Mind Control In Hindi 

Subconscious Mind : 24 घण्टे कार्य करता है, जब आप नींद ले रहे होते है तब भी आपका Subconscious Mind कार्य करता रखता है।

→ हमारे दिल की दड़कन को कौन नियन्त्रित कर रहा है। 

→ शरीर का Temperature कौन मैनेज करता है। 

→ हम जो श्वास लेते है उन श्वास गति को कौन मैनेज करता है। 
→ आपकी आँखों की पलकों को कौन नियंत्रण करता है, जो बार-बार झपकती है। 

यह सब कार्य Subconscious Mind करता है और यह Conscious Mind से बहुत ही ज्यादा Powerfull है। Subconscious Mind के बारे में मनोशास्री फ्रॉयड का कहना है कि यह Ice (बर्फ) के उस बड़े खण्ड के समान है, जो समुद्र में बहता रहता है, जिसका 1/10 भाग पानी के निचे रहता है। 

इसी तरह Conscious Mind का भाग बहुत छोटा है और Subconscious Mind का भाग बहुत ही बड़ा है। 


How To Control Mind In Hindi { Mind Control In Hindi } अपने मन को काबू कैसे करे 

mind control in hindi
How To Control Mind In Hindi

हमे जो भी है अपने मन की वजह से है और मन (Mind) हमेशा वही चीजे आपसे करवाता है, जिसमे उसको मज़ा आये। हमारे मन को गलत चीजे करने में बहुत ही मज़ा आता है, यह हमेशा ऐसा ही करता है. जिसमे मज़ा है वही जिसे मन में आती है और फिर हम वही करने लगते है।

आपके लिए 2 ऑप्शन है, पहला की आप उस विषय को पढ़े जो आपको अच्छा नहीं लगता है और दूसरा आप कोई आपकी फेवरेट Game खेलनी है।

तो आपको जो विषय अच्छा नहीं लगता है उसे पढोगे तो आपका मन नहीं लगेगा, दर्द होगा, सिर दर्द होगा, नींद आएगी बगेरा-बगेरा.... और अगर आपको Game खेलनी हो तो बहुत ही मजा आएगा।

में आपके कुछ ऐसे तरीके लाया हु जिसे अगर आप Follow करगे तो आप आपके मन के मालिक बन जायगे।


1. दृढ़ संकल्प शक्ति (Strong Determination Power)


जी हां, आपको दृढ़ संकल्प करने होंगे और खुद पर विश्वास (Believe) करना होगा। आपका माइंड आपके कण्ट्रोल में नहीं है इसका मतलब है, अपने कभी संकल्प, खुद से कभी Commitment किया ही नहीं है ?


असफलता मुझे कभी भी रोक नहीं पायेगी यदि सफल होने का मेरा दृढ़ संकल्प है।

कुछ Tips आप पहले छोटे-छोटे संकल्प करे खुदसे एक दिन के लिया या Week के लिए और उसे पूरा करे यह में Work की बात कर रहा हु। इसमें Study, Mobile का काम Use करना, नशा छोड़ना ये सब बाते आती है।

आपको अपनी संकल्प को दृढ़ करने के लिए  Positive Thinking करनी होगी। Positive Thinking करने के लिए आप Self Helf Books, Good Videos या कुछ Motivation Article आपको Daily पढ़ने होंगे। यह काम आप हर रोज करते है, तो धीरे-धीरे आपकी Thinking में बदलाव आएगा और आप Positive Thinking करने लगेंगे।


2. मन को शांत रखे ( Keep Calm)


अगर आप अपने Mind को Control करना चाहते, जिससे की आप कोई Goal Achive कर सके तो आपको अपने मन शांत रखता होगा। कभी कभी अपने मन में उल्टा सीधा सोचते रहते है, और कभी तो हम किसी को उल्टा सीधा बोल देते है, और बाद में हमें यह अहसास होगा है की यह मेने गलत किया।

अशांत मन से हमें गुस्सा आता है और गुस्सा आने से हमारे तर्क का नाश हो जाता है, और कभी कभी हम ऐसी गलती कर देते है जिसकी सजा हमें और हमारे परिवार को भी महंगी पड़ जाती है।

आचार्य चाणक्य कहते है, शांत मन से ही आदमी निर्णय लेना चाहिए तो वह जीवन में बहुत सफल होगा।

मन को शांत रखने के लिए आप Meditation करे रोज 10 से 20 मिनिट जिससे आपका मन शांत रहेगा और Affirmations भी करे।


3. धैर्य रखे  (Be patient)


कभी कभी हम जल्द बाजी के चक्कर में बुरी तरह फस जाते है, पूरा काम बिगड़ जाता है, फिर हमारा Motivation कम होता जाता है। जल्द बाजी के चक्कर में हम अक्सर धैर्य खो देते या फिर सही तरह से कर नहीं पाते है।  जब ऐसा होता है, तो फिर हमे सब कुछ फिर से करना पड़ता है तो हमरा मन भटकने लगता है, की इतनी तो महेनत की क्या हासिल हुआ अब तब अब मुझसे यह नहीं होगा।

आप सोचना आपने साथ भी ऐसा हुआ ही होगा - ex. जब हमें School में Homework मिलता था। कभी-कभी बहुत ही ज्यादा Homework Teacher देते है, तब हम जल्द बाजी में Homework ऐसे करते थे जिसकी Writing ऐसे आती थी जैसे आपकी अलग-अलग लोगो से लिखवाया हो।

मेरे साथ ऐसे ही हुआ था जब मेने Teacher को Homework दिखया तो Teacher ने माना ही नहीं, कि यह  मेने लिखा है और फिर मुझे वापिस सब लिखना पड़ा। इसलिए आप किसी भी कार्य में कभी भी जल्दबाजी ना करे।


4. तालमटोक ना करे अपने काम में (Do Not Talk About Your Work)

कल पे किसी भी काम को ना छोड़े। जो काम Importance है, उसे आप पहले और तुरंत करने बैठ जाये। जब आप किसी काम को कल पे टालते है तो फिर आप वह काम कभी नहीं कर पाते है, क्योकि कल कभी आता ही नहीं है।

जब श्री राम ने लक्ष्मण को रावण के पास कोई सिख लेने भेजा तो रावण ने पहली सिख दी की " किसी भी कार्य को कल पर मत टालो, अभी तो बहुत देर है में कल कर लूंगा"

रावण स्वर्ग की बना सकता था लेकिन रावण ने उस कार्य को हमेशा कल पर टाला और वह कल कभी आया ही नहीं, यह बहुत ही बड़ी सिख है।

आप भी अपने कार्य को कल पर मत टाले इससे आपको कोई फायदा नहीं होगा। आप Time Management को यूज़ करे और जल्द और तुरंत काम करना शुरू करे। जिससे आपने मन में कोई और विचार आएगा नहीं और आपका मन भी नहीं भटगेगा।


5. पॉजिटिव शब्द अपने आप से कहे (Say Positive Words To Yourself)

शब्दो में बहुत ही शक्ति होती है, यह आपको आप जो चाहे वैसा आपको बना सकती है। जैसे कहा गया है कि, जैसा सोचेगा वैसा ही आप बनोगे। ये बात सत्य है, क्योकि जो आप अपने आप को कहते है, आप वैसे ही होते है।

Henry Ford ने कहा है, " तुम कर सकते हो ऐसा तुम मानते हो या फिर तुम नहीं कर सकते ऐसा तुम मानते हो तो आप की दोनों बाते सत्य है।

आप मानते है, की आप कर सकते है, तो मेरा यकीन कीजिए आप कर सकते है। आप मानना यह शुरू कर दे और बार-बार अपने आप से कहे "में अपने मन का मालिक हु, में जैसा कहता हु मेरा मन वैसा ही करता है" लेकिन आप इसे पुरे विश्वास और पुरे मन से दोहराये ताकि यह बात आपके Subconscious Mind (अवचेतन मन) में चली जाये।

जब आप कोई चीज बार-बार करते है या फिर कोई बात बार-बार अपने आप से कहते है तो फिर वह बात आपके Subconscious Mind (अवचेतन मन) में चली जाती है और फिर आपको वही सत्य लगता है।

ex - में बचपन में स्कूल में जब कुछ करता था, जैसे कोई प्रोग्राम में हिस्सा लेना या फिर सबके ऊपर शूट वैसे कहे तो Teacher कुछ पूछती है, तब हम उसका Answer देते है और वह गलत होता हैं। फिर Teacher हमे मंदबुद्धि या हमे डाटती है तो हम बाकि के स्टूडेंट हसते है और हमरा बार-बार मजाक उड़ाते है।

ऐसा 2-3 बार होने से यह बात आपके Subconscious Mind (अवचेतन मन) में चली जाती है। फिर आपको सही Answer आता होगा फिर भी आपको ख़ुद पर डाउट होगा की अगर मेरा Answer गलत निकला तो मेरा मजाक बनेगा।

इस लिए आप अपने आप से कभी भी नकारात्मक शब्द ना कहे और हमेशा पॉजिटिव शब्द अपने आप से कहे।

→ में चाहु तो में सब कुछ कर सकता हु।

→ में बुद्धिमान हु और सही फैसले ले सकता हु।

→ मेरा मन हमेशा मेरा कण्ट्रोल में रहता है।

→ में खुद से प्यार करता हु खुद पर विश्वास करता हु।

→ में संकल्प लेता हु और फिर उसे पूरा करता हु।

→ में हारता जरूर हु, लेकिन कभी हार नहीं मानता।


6. खुद से प्यार करे ( Love yourself )

खुद से प्यार करने का मतलब है, जो आपके लिए सही है वही करना, कभी खुद को तकलीफ हो वैसा कार्य नहीं करना। जैसा जो लोग शराब, सिगरेट और गांजा जैसी चीजों का नशा करते है उसमे से 90% लोग खुद से प्यार नहीं करते है, और एक दिन कैंसर से पीड़ित होकर हॉस्पिटल में पड़े होते है।

खुद से प्यार करोगे तो आप खुदको जान पाओगे की में कौन हूँ, मेरा उद्देश्य क्या है। आपको यह दिखने लगेगा की आपके लिए क्या सही है, आप तुरंत किसी बात का निर्णय नहीं लोगे आप फिर सोच समझकर शांत दिमाग से निर्णय लोगे।

आप खुद से प्यार करोगे तो आपको आपके Time, Family, Relations और काफी और चीजे भी है जिसकी Value क्या है वह पता चलेगी। आप फिर मन कभी भटकेंगे नहीं क्योकि आप अपने काम के आलावा किसी और चीज को बारे में सोच ही नहीं पाएंगे।


⇹⇹⇹⇹⇹⇹⇹⇹⇹⇹⇹⇹⇹⇹⇹⇹⇹⇹⇹⇹⇹

निवेदन: दोस्तों, आप लोगो को हमारा ये पोस्ट How to Control your Mind in Hindi ये कैसा लगा और आपको कोनसी एक बात अच्छी लगी इस पोस्ट में ये हमे Comment के माध्यम से बताये।

अगर आपको कोई सवाल है तो हमे कमेंट में जरूर बताये, हमे आपकी मदद करने में ख़ुशी होगी।


Daily Update हमे Follow जरूर करे।

टिप्पणी पोस्ट करें

2 टिप्पणियां

हमें Comment करके बताये की, इस Article से आपको कुछ सिखने को मिला और आपका कोई सवाल हो तो भी हमें जरूर बताये Comment करके। Thanks